loading...

कबीर गगन में आग लगी बड़ी भारी - Kabir gagan mein aag lagi badi bhari - Kabir Ke Shabd

Share:
SANT KABIR (Inspirational Biographies for Children) (Hindi Edition ...
Kabir Ke Shabd 


कबीर के शब्द

गगन में आग लगी बड़ी भारी, या जल गई दुनिया सारी।
धरती भी जल गई अम्बर भी जल गया, जल गया सकल पसारी।
चाँद भी जल गया सूरज भी जल गया, जल गए नोलख तारी।।

ब्रम्हा जल गया, विष्णु जल गया,  शंकर जला लटाधारी ।
राम भी जल गया, लछमन भी जल गया, जल गया कृष्ण मुरारी।।

गंगा जलगी भी जमना भी जलगी,  जली सरस्वती प्यारी।
वेद भी जलग्या, शास्त्र भी जलग्या, जलगी गीता नारी।।

तीन युगों का हुआ खात्मा, ओर युग चार विचारी।
कह कबीर दुनो भई साधो, बच गया सन्त आधारी।।

कोई टिप्पणी नहीं