loading...

बोल सुआ राम राम, मीठी मीठी वाणी रे-Kabir Ke Shabd-bol suaa raam raam, mithi mithi vaani re।।

Share:
SANT KABIR (Inspirational Biographies for Children) (Hindi Edition ...
Kabir Ke Shabd 

कबीर के शब्द
बोल सुआ राम राम, मीठी मीठी वाणी रे।। 
सोने के तार सुआ, पिंजरों बनाऊं रे।
पिंजरे में मोती आले, झालरे लगाऊं रे।।

खीर ते मिठाई मेवा लापसी जिमाउँ रे।
आंवले को रद तनै, घोल-२ प्याउँ रे।।

चम्पा केरी डाल सुआ, पिंजरों घलाऊँ रे।
पिंजरे में बिठा के तनै, हाथ सों झुलाऊँ रे।।

पगां के माहीं थारे, पैजनियां पहनाऊं रे।
मीरा गिरधारी चरणां, पाए सुख पाऊं रे।।

कोई टिप्पणी नहीं