loading...

गुरु के समान नहीं, दूसरा जहान में-Kabir ke Shabd-guru ke samaan nahin, dusraa jahaan mein

Share:
SANT KABIR (Inspirational Biographies for Children) (Hindi Edition ...
Kabir Ke Shabd 

कबीर के शब्

                         5
गुरु के समान नहीं, दूसरा जहान में।
गुरु जी की महिमा जानो, वेद और पुराण में।।

गुरु ब्रह्मरूप जानो, शिव का स्वरूप जानो।
साक्षात विष्णु जानो, लिखा है पुराण में।।

यही यजुर्वेद कहता, गुरु बिना ज्ञान कैसा।
ज्ञान बिना मुक्ति कैसी, जो आजा तेरे ध्यान में।।

ज्ञान तो सिखावै गुरु, पाप से बचावै गुरु।
राम से मिलावै गुरु, तुर्यपद के ध्यान में।।

छल कपट त्याग दीजो, गुरु जी की सेवा कीजो।
कह कबीर सुनो भई साधो, निर्भय हो जहान में।।

कोई टिप्पणी नहीं