loading...

करो रे मन ,गगन मण्डल की सैल-Kabir Ke Shabd-karo re man ,gagan mandal ki sail।

Share:
SANT KABIR (Inspirational Biographies for Children) (Hindi Edition ...
Kabir Ke Shabd 

कबीर के शब्द
करो रे मन ,गगन मण्डल की सैल।
हरि के भजन बिन ऐसे दुःख पावे जी,
ज्यों तेली को बैल।

हरी के भजन से पाप कटेंगे जी
,ज्यों साबुन से मैल।

जो जन्मा सो आया मरण में जी,
क्या बूढ़ा क्या छैल।

मात पिता तेरा कुटुंब कबीला जी
कोए ना चले तेरी गैल।

कह कबीर सुनो भई साधो,छोड़ जगत के फ़ैल।

कोई टिप्पणी नहीं