loading...

खाली पिंजरा पड़ा रहा जाएगा-Kabir Ke Shabd-khaali pinjraa pdaa rahaa jaaagaa।

Share:
SANT KABIR (Inspirational Biographies for Children) (Hindi Edition ...
Kabir Ke Shabd 
कबीर के शब्द
खाली पिंजरा पड़ा रहा जाएगा।
जब हंसा अकेला उड़ जाएगा।।

छूटेगी सम्पत्ति खजाने की सारी,
भाई बहन पिता पुत्र नारी।
संग प्रेमी कोई नहीं जाएगा।।

एक दिन तुम्हे जग से जाना पड़ेगा,
कर्मों का बोझा उठाना पड़ेगा।
फिर समझ-२ पछताएगा।।

माटी के पुतले को क्यों तुं सजाए,
मलमल के साबुन और तेल लगाए।
पल भर में बिखर सब जाएगा।।

रे मन मुसाफिर रहो हर की शरणा,
हो गीतानन्द अब देर मत करना।
फिर ऐसा समय नहीं आएगा।।

कोई टिप्पणी नहीं