loading...

मनै लागै चुनड़ी प्यारी, प्यारी प्यारी प्यारी-Kabir Ke Shabd-manai laagai chundi pyaari, pyaari pyaari pyaari।

Share:
SANT KABIR (Inspirational Biographies for Children) (Hindi Edition ...
Kabir Ke Shabd 

कबीर के शब्द
मनै लागै चुनड़ी प्यारी, प्यारी प्यारी प्यारी।
या चुनड़ी मेरी माँ के तैं आई, इसकी शोभा न्यारी।

चारों पल्लां पे नाम साहिब का, जिसमें केशर क्यारी।
इस चुनड़ी में फूल लहरिया, करता चांद खिलारी।
कथगी कमाली कबीरा थारी बाली, चुनड़ी ओढो नर नारी।।

कोई टिप्पणी नहीं