loading...

मरहम हो सोए जाने भाई साधो, ऐसा है देश हमारा जी-Kabir Ke Shabd-maraham ho soa jaane bhaai saadho, aisaa hai desh hamaaraa ji।

Share:
SANT KABIR (Inspirational Biographies for Children) (Hindi Edition ...
Kabir Ke Shabd 
कबीर के शब्द
मरहम हो सोए जाने भाई साधो, ऐसा है देश हमारा जी।
वेद कितेब पर नहीं पावे, कहन सुनन से न्यारा जी।
जात वर्ण कुल किर्या नाहीं, सन्ध्या नेम अचारा जी।।

बिनजल बून्द पड़े जहां भारी, नहीं मीठा नहीं खारा जी।
सुन्न महल में नोबत बाजें, किंगरी बीन सितारा जी।।

बिनबादल जहांबिजली चमके, बिन सूरज उजियालाजी
बिना सीप जहां मोती उपजें बिन सुर शब्द उचारा जी।।

जोति लजाये ब्रह्म जहां दरसें, आगे अगम अपारा जी।
कह कबीर वहां रहन हमारी, बुझे गुरुमुख प्यारा जी।।

कोई टिप्पणी नहीं