loading...

सुन हंसा भाई, हंस गति में होना जी-Kabir Ke Shabd-sun hansaa bhaai, hans gati men honaa ji।

Share:
SANT KABIR (Inspirational Biographies for Children) (Hindi Edition ...
Kabir Ke Shabd 
कबीर के शब्द
सुन हंसा भाई, हंस गति में होना जी।
जागै इतनें ज्ञान विचार, ध्यान लगा के सोना।।

मानस जन्म का चोला पाके बीज भजन का बोना।
बिना भजन कीमत नहीं इसकी, बेगी यो मत खोना।।

राम नाम का निर्मल जल है, भीतर मलमल धोना।
जन्म-२ के पाप कटें तेरे, मिटे चौरासी का रोना।।

दिल है ये एक जल का सागर, उल्टी झाल समोना।
बिना विचारे बड़ बड़ बोले, हुए कुरड़ का ढोना।।

तेरी काया पे माल चौगना, चौकस हो कै रहना।
आज्ञाराम कर चले फैंसला, दूजा नहीं बिगोना।।

कोई टिप्पणी नहीं