loading...

तेरा पीया से मिलन कैसे होए, गली तो च्यारों बन्द पड़ी-Kabir Ke Shabd-teraa piyaa se milan kaise hoa, gali to chyaaron band pdi।

Share:
SANT KABIR (Inspirational Biographies for Children) (Hindi Edition ...
Kabir Ke Shabd 
कबीर के शब्द
तेरा पीया से मिलन कैसे होए, गली तो च्यारों बन्द पड़ी।
काम क्रोध मद लोभ मोह ने, घेरी च्यारों गेल।
इन गलियन म्हारे प्रीतम बसते कैसे करूँ मैं वां की सैल।।

पांच पचीसों पहरे ला दिए, रोक लिए सब ठाम।
ये विधना ने कैसी किन्ही, बैरी बसायो म्हारे गाम।।

आशा तृष्णा खड़ी दुहेली, इन मे रहा समाय।
कनक कामनी गहरा फंदा, अंत तजो नहीं जाए।।

ज्ञान भक्ति वैराग योग, का मार्ग दिया बताए।
कह कबीर सुनो भई साधो, ना आवे ना कोए जाए।।

कोई टिप्पणी नहीं