loading...

कबीर सौदा करे सो जानै - Kabir soda kare so jaane - Kabir Ke Shabd

Share:
SANT KABIR (Inspirational Biographies for Children) (Hindi Edition ...
Kabir Ke Shabd 


कबीर के शब्द

कबीर सौदा करे सो जानै रे, कायागढ खुला है बाजार।
इस काया में हाट लाग रही, बैठे साहूकार।
व्यापारी ने पूरा तोलै डांडी मारें सरे बाजार।।

इस काया में लाल बिकें, कोए परखे परखनहार।
गुरूमुख जौहरी परख पिछाणै, के नुगराँ ने सार।।

इस काया में पातर नाचै, हंस करें व्यवहार।
अर्द् उर्द की पायल बाजै, सुरतां सुन्न में करे सिंगार।।

इस काया में चोर फिरें, तनै लूटै सरे बाजार।
गुरुमुख हो जो बचे काल से, नुगरा डूबै मझधार।।

इस काया में धनी विराजे, तिनका ओट पहाड़।
कह कबीर सुनो भई साधो, गुरू बिन घोर अंधियार।।

कोई टिप्पणी नहीं