loading...

साहिब बंदगी-Sahib Bandgi

Share:

  साहिब बंदगी

संक्षिप्त विवरण साहिब बन्दगी आध्यात्मिक संस्था सभी लोगो की अच्छाई चाहती है और संसार के सभी धर्मों का आदर करती है। यह संतमत की सच्ची विचारधारा पर आधारित सत्य भक्ति का मार्ग है जो प्रत्येक मानव को संत मत का सच्चा ज्ञान उपलब्ध कराने, सच्चे सतगुरु के महत्त्व को समझाने तथा आध्यात्म के वास्तविक अर्थ को समझाने में मदद करता है। संत सतगुरु मधु परमहंस साहिब “साहिब बन्दगी” आध्यात्मिक संस्था के संस्थापक हैं जो मानव के आध्यात्मिक विकास और व्यक्तिगत परिवर्तन कर उन्हे सत्य भक्ति के मार्ग पर अग्रेषित करने के लिए प्रतिबद्ध है। सत्य भक्ति और संतमत की शिक्षाओं की उत्पत्ति सबसे पहले "संत सम्राट सतगुरु कबीर साहिब" से हुई है।



आज के आधुनिक समाज में, अनुचित मीडिया के कारण संतमत की शिक्षाओं ने अपने मूल ज्ञान को पूरी तरह से खो दिया है। संत सतगुरु मधु परमहंस साहिब सत्य भक्ति, सतगुरु, संतमत, सार नाम और मोक्ष से संबन्धित हर झूठ को मिटाने के लिए आत्म केंद्रित होकर प्रतिबद्ध हैं।

आज के आध्यात्म में पाखंड की चुनौतियों को पहचानते हुए हम व्यक्तियों को सच्चे आध्यात्म के वास्तविक ज्ञान की ओर अग्रेषित करते हैं। यह संस्था व्यक्तियों को वास्तविक तथ्यों को समझने के लिए गहरी समझ प्रदान की जाती है। साथ ही संस्था संतमत के मूल ज्ञान के अनुरूप सही ढंग से संत सतगुरु मधु परमहंस साहिब की शिक्षाओं की ओर केन्द्रित है।

 साहिब बन्दगी आध्यात्मिक संस्था की स्थापना "संत सतगुरु मधु परमहंस साहिब” ने सन 1992 में की। वास्तव में संसार में संत सतगुरु मधु परमहंस साहिब ही केवल एक ऐसे जीवित सतगुरु हैं जिनका निराकार मन तथा काया पर पूर्ण नियंत्रण है। उन्हे आध्यात्मिकता और धर्म के हर पहलू के साथ साथ इस ब्रह्मांड की रचना के पीछे के हर रहस्य का ज्ञान है।

कोई टिप्पणी नहीं