loading...

तुम म्हारी भी बनाइयो महाराज - tum mahari bhi bnaiyo maharaj - Kabir ke shabd

Share:
SANT KABIR (Inspirational Biographies for Children) (Hindi Edition ...
Kabir Ke Shabd 

कबीर के शब्द

तुम म्हारी भी बनाइयो महाराज, शरण आए सब की बनी
ध्रुव की बनी प्रह्लाद की बनाई जी, द्रोपदी की राखी तुम ने लाज।।

भीलनी के बेर दाता रुचि रुचि खाए जी,
विदुर भगत का साग।।

गणिका व गज अजामिल तारे जी,
डूबत उभारे गजराज।।

मीरा के पृभु गिरधर नागर जी,
बांह पकड़े की रखियो लाज।।

कोई टिप्पणी नहीं