loading...

बुध प्रदोष के उपाय | Budh Pradosh Ke Upay

Share:

Budh Pradosh Ke Upay

Budh Pradosh Ke Upay | जो प्रदोष व्रत बुधवार के दिन पड़ता है वो बुध प्रदोष व्रत या सौम्यवारा प्रदोष व्रत कहलाता है। बुधवार के दिन प्रदोष व्रत हो तो, उपासक की सभी कामनाओं की पूर्ति होती है इस दिन कुछ उपाय करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती है। आइए जानते हैं अलग-अलग मनोकामनाओं की पूर्ति के लिए प्रदोष पर क्या आसान उपाय करने चाहिए।

Budh Pradosh Ke Upay

व्यापार में वृद्धि के लिए-
मिट्टी के तीन दीपक में पीली सरसों के दाने, तिल, साबुत नमक और साबुत धनिया मिलाकर अपने व्यापार स्थल पर रख दें। इससे व्यापार में वृद्धि होने लगेगी और ग्राहकों पर भी असर दिखाई देगा।

छात्रों के लिए-

लाल मिर्च के बीज निकालकर इन्हें जल में मिलाएं। दिन में किसी भी समय इस जल को सूर्य को अर्पित करें। डिप्रेशन की समस्या में आराम मिलेगा।

महिलाओं के लिए उपाय-

एक सूर्ख लाल रंग के मोटे कागज का टुकड़ा ले लीजिये। इसको त्रिभुजाकार काट लीजिये। तीनों भुजाएं बराबर होना चाहिए। इस त्रिभुज वाले टुकड़े को अपने काम के स्थान पर रखें। वहां रखे जाहां आप बराबर आप उसे देख सकें। इससे आपका मणिपुर चक्र इंप्रूव होगा और आपके साहस एवं आत्म विश्वास का स्तर बढ़ जाएगा।

अटके हुए काम के लिए-

यदि किसी सरकारी उद्योग या विभाग में आपको कोई काम अटक गया है और आप उसके नहीं होने से परेशान हैं तो पीली सरसों को आक के दूध में मिलाकर हवन करें। हवन करने के बाद देखेंगे कि आपको फायदा होने लगा।

No comments