loading...

दया से बादशाही-Sovereignty by mercy

Share:
दया से बादशाही

एक व्यक्ति शिकार के लिये जंगल में गया । वहॉ उसने एक हरिनी को देखा। उसके साथ छोटा बच्चा था । शिकारी दौडा, हरिनी तो डरकर जंगल में छिप गयी । बच्चा पकड़ा गया । शिकारी बच्चे को लेकर चला तब हरिनी भी निकल आयी और बच्चे के स्नेहवश वह भी पीछे-पीछे चलने लगी । शिकारी ने कुछ दूर आने के बाद पीछे की और मुड़कर देखा ।

हरिनी की आँखों से आँसुओँ की धारा बह रही थी और वह पीछे पीछे चली आ रही थी। शिकारी अपने गाँव  के समीप आ गया । तब भी हरिनी उसी प्रकार रोती चली आ रही थी । उसको दया आ गयी । उसने बच्चे को छोड़ दिया । बच्चा छूटते ही छलाँग मारकर माँ के पास पहूँचा । हरिनी मूक आशीर्वाद देती हुई बच्चे को लेकर लोट गयी ।

रात को शिकारी ने स्वपन में देखा-कोई कह रहा है, इस दया के फलस्वरूप तुम्हें बादशाही मिलेगी । वही आगे चलकर गजनी का बादशाह हुआ। 

कोई टिप्पणी नहीं