loading...

अरे नादान परदेशी, तूँ दुनिया छोड़ जाएगा-Kabir Ke shabd-are naadaan pardeshi, tun duniyaa chhod jaaagaa।।

Share:
SANT KABIR (Inspirational Biographies for Children) (Hindi Edition ...
Kabir Ke Shabd 

कबीर के शब्द

अरे नादान परदेशी, तूँ दुनिया छोड़ जाएगा।।
क्या लाया साथ मे अपने, साथ क्या ले के जाएगा।।

कमाई लाखों की दौलत, करोड़ी बन बैठा है।
धर्म के नाश का कुछ भी,  ये धेला काम आएगा।।

मिला शुभ कर्म से नर तन, इसे यूँ ही गंवाना ना।
पृभु के सामने अपना, तूँ क्या चेहरा दिखाएगा।।

रहा ना कोई दुनिया में, जो आया वो गया यहाँ से।
चले जाओगे जब जग से, नाम तेरा रह जाएगा।।

कोई टिप्पणी नहीं