loading...

मीरा जाग्यो थारो भाग, हरि का रंग में-Kabir Ke Shabd-miraa jaagyo thaaro bhaag, hari kaa rang men।।

Share:
SANT KABIR (Inspirational Biographies for Children) (Hindi Edition ...
Kabir Ke Shabd 

कबीर के शब्द

मीरा जाग्यो थारो भाग, हरि का रंग में।।
सर्प पिटारों राणा ने भेजो,दियो मीरा ने जाए।
खोल पिटारों देखन लागी, बनग्यो यो सल्हाद।।

शेर पिंजरा राणा ने भेजा, दियो मीरा ने जाए।
खोल पिंजरा देखन लागी, बनगी धौली गाय।। 

साधु आया शहर में जी, मीरा सुनी आवाज।
तन मन से सेवा करै थी, हरि मिलन की आश।।

कोई टिप्पणी नहीं